Refund Voucher Criminal Fine and compansation

Refund Voucher Criminal Fine and compansation

नमस्‍कार दोस्‍तों,

               आज में उन नये कर्मचारीयों को कुछ जानकारी देना चाहता हूँ जो बिल्‍कुल नये हैंं और अभी अभी उन्‍होंने सहायक ग्रेड तीन के रूप में ज्‍वानिंग की है या  रीडर बनें हैं।

              खात तौर से सबसे पहले आपको यह बताना चाहूंगा कि अक्‍सर कोर्ट में काम करते समय कई बार क्रिमिनल रीडराेें को Refund Voucher बनाने में काफी परेशानियों का सामना करना पडता है ऐसे में वो अपने सीनियर्स से सलाह लेते है क्‍योंकि मैंने भी यही किया था इसके अलावा हमारे पास और कोई रास्‍ता होता भी नहीं है उसके बाद भी हमें काफी परेशानियॉं होती हैं और डर बना ही रहता है कि कहीं गलत न हो जाये । तो दोस्‍तों में आपको एक बात बतला देेेेना चाहता हूँ कि कोई भी व्‍यक्ति पूर्ण नहीं होता है सिर्फ सीखने की प्रक्रिया से वह आगे बढता जाये तो वह अपने काम को पूरा कर सकता है इसमें डरने की कोई बात नहीं होती है। मैं नीचे एक Refud Voucher की फोटो share कर रहा हूँ इसे ध्‍यान से देखें और इसके हिसाब से आप नीली स्‍याही से जैसा जैसा भरा हुुुुआहै वहॉं वहॉं खाली स्‍थान को आप अपनी फाईल को देखकर भरतें जायें
सबसे पहले हम आते हैं 
01-        यहाँ पर हमे पेज नंबर डालना होता है 

  02           यहॉं नीली स्‍याही वाली जगह पर हमको वाउचर का नंबर डालना है जो कि महीने  से काउण्‍ट होता है अर्थात यदि माह जनवरी का पहला वाउचर है तो 01/2018 और यदि दूसरा है तो 02/2018 इसी प्रकार आगे बढना है किन्‍तु जब फरवरी माह आये तो पहला वाउण्‍चर 01/2018 और यदि दूसरा है तो 02/2018  होगा।

03           यहॉं पर हमको प्रकरण का नंबर और प्रकार तथा पक्षकाराेे के नाम जैसे दिखाया गया है अर्थात पूरी जानकारी डालनी चाहिए क्‍योंकि सारी जानकारी लिखी होने से आसानी से जानकारी प्राप्‍त हो जाती है।  
04        यहॉं पर जितना पैसा दिया जानेे का आदेश हुआ है वह रूपया पूरा शब्‍दों में और अंकों में भरा जाना               चाहिए तथा इसके उपरान्‍त जिस व्‍यक्ति को पैसा दिया जाना है उसका पूरा नाम व पता लिखा होनी चाहिए।  
05     रुपया पाने वाले का पूरा नाम एवं पता भरना है 
06     कॉलम नंबर 06 को भरते समय ध्‍यान रखना है कि हमेंं फाइन ए रजिस्‍टर का चालान क्रमांक एवं दिनांक डालना है जो कि लाल स्‍याही से हमारे फाइन ए रजिस्‍टर में  भरा रहता है।

07   इस कॉलम मेें न्‍यायालय की सील लगाई जाती है

14    इस कॉलम में वाउचर नंबर डालना है जो हमने 2 नंबर कॉलम में डाला है।

15  किस तारीख का आदेश दिनांक का उल्‍लेख किया जाना है

08     इस कॉलम में आरोपी का नाम, चालान नंबर फाईन ए रजिस्‍टर का दिनांक एवं राशि का उल्‍लेख कीजिए
10      इस कॉलम में अभियुक्‍त या अावेदक से वसूल हुये जुर्माने की रकम लिखी जाती है।
11     इस कॉलम में चालान क्रमांक, दिनांक एवं राशि का उल्‍लेख किया जाता है।
12     इस कॉलम में रूपये पाने वाले का नाम पता भरा जाता है।
13    इस कॉलम में जो राशि दिये जाने का आदेश दिया गया है उतनी राशि का लेख किया जाता है मान लीजिये अभियुक्‍त ने जुर्माना जमा किया 10000 रूपये जिसमें से फरियादी को प्रतिकर स्‍वरूप 5000 रूपये लौटाना है तो इस कॉलम में 5000रूपये का उल्‍लेख किया जायेगा।
16    किस आदेश के पालन में वापिस हो रहा है उसकी छायाप्रति 
09    इस कॉलम में  न्‍यायालय की सील तथा हस्‍ताक्षर  
17     इस कॉलम में भी न्‍यायालय की सील / हस्‍ताक्षर होते हैं।
18    रकम 20 रूपये से अधिक होने पर रसीदी टिकट का उपयोग किया जाता है जो चिपकाकर आवेदक से हस्‍ताक्षर लिये जाते हैंं जो कि रसीदी टिकट पर आधे और आधे बाउचर तक आते हैं। 


इस प्रकार हम अपना Refund voucher  बना लेते है । इसके पीछे वाले भाग पर जो प्रति हमारे पास रहती हैै उसमें टीप अंकित करना चाहिए कि आवेदक को वाउचर …………राशि का प्रदान किया गया जिसकी पहचान अधिवक्‍ता श्री …………..के माध्‍यम से की गई। पावती ली गई। 
मेरे ख्‍याल से अब आप लोग रिफण्‍ड बाउचर आसानी से इस जानकारी के माध्‍यम से बना पायेंगे लेकिन जब आपके पास में तुरन्‍त यह उपलब्‍ध हो जाये आपको करना केवल इतना है कि अपने मोबाइल में  MP District Court  के एप में सर्च बार में 
                    लेख करना है और वह आपके सामने होगा जिससे आपको जानकारी तुरन्‍त ही उपलब्‍ध हो पायेगीा।
 इसके बाद भी यदि आपको यह लगता है कि इसमें कुछ भाग गलत है या छूट गयेंं हैं अथवा और जानकारी जोडी जा सकती है तो अवश्‍य अवगत करायें  9584188005



Leave a Reply